Sunday, 13 January 2019

Google Map से जुड़ी हुए 5 सच्ची और रोचक कहानियां

दोस्तों आज हम आपको गूगल मैप से जुड़ी हुई पांच सच्ची घटनाओं के बारे में बताएंगे। जहां गूगल मैप ने इंसानों की जान बचाई है। वैसे तो गूगल मैप से जुड़ी हुई ऐसी बहुत सी घटनाएं हैं। लेकिन आज इस आर्टिकल में हम सिर्फ टॉप 5 घटनाओं के बारे में ही चर्चा करेंगे। तो चलिए शुरू करते है।

Top 5 Times When Google Maps Saved Lives


Google map top 5 secret tricks


1. Saved From a Desert Island 


यह कहानी तीन दोस्तों की है। जिनकी नाम बीच समुद्र में कंही खराब हो गई थी। उसके बाद वे तीनों दोस्त किसी तरीके से तैरते तैरते एक टापू पर पँहुचने में सफल हो गए थे पर उस समय उनमे से कोई भी नही जानता था कि वे इस समय कौन सी जगह पर है। इसलिए उनमें से एक व्यक्ति ने कुछ लकड़ियां इकट्ठा की और उन लकड़ियों से समुद्र किनारे जमीन पर बड़े बड़े अक्षरों में "Help" नाम लिख दिया।

इसके काफी दिनों के बाद एक व्यक्ति google map पर कुछ Islands को ऐसे ही देख रहा था तो उसे एक Island के किनारे पर "Help" नाम दिखाई दिया। उस व्यक्ति ने इसकी जानकारी तुरंत US Navy को दी। उसके बाद यूएस नेवी की एक टीम उस टापू पर पहुंची और उन तीनों व्यक्तियों की जान बचा ले गई।


2. Wait For 23 Years


ये कहानी भारत के ही एक बच्चे की है। जिसका नाम शारु था। एक दिन वह गलती से किसी गलत ट्रेन में बैठ गया और उसके बाद वो गुम गया। वो बच्चा ऑस्ट्रेलिया की एक महिला को मिल गया जिसने उसे गोद ले लिया। फिर वो उस बच्चे को लेकर ऑस्ट्रेलिया चली गयी।

ऑस्ट्रेलिया जाने के बाद भी उस बच्चे को अपने घर की बहुत याद आती थी, पर उसका घर कन्हा है ? ये उसे बिल्कुल भी याद नही था। उसे बस इतना याद था कि उसके घर के पास दो पानी की टँकीया थी।

23 साल के बाद जब वह बच्चा काफी समझदार हो गया। तो तब उसने गूगल मैप पर अपना घर ढूंढना शुरू कर दिया। और आखिरकार एक दिन उसने गूगल मैप के द्वारा अपना घर ढूंढ ही लिया। इसके तुरंत बाद वह ऑस्ट्रेलिया से इंडिया के लिए रवाना हो गया और सीधा अपने घर चला गया और परिवार से मिला। परिवार वालों से मिलने के बाद शारु ने गूगल मैप का दिल से धन्यवाद कहा और यह भी कहा कि अगर गूगल मैप ना होता तो वह है अपने परिवार से कभी नहीं मिल पाता।


3. Google Map Finds Missing Man


यह घटना अक्टूबर 2006 की है। जब 67 वर्ष का एक व्यक्ति जिसका नाम David Lee था, एक दिन वह बार से अपने घर जा रहा था, तब वह बार से तो निकल गया पर अपने घर तक नहीं पहुंचा। उसके घर वालों ने उसे ढूंढने की बहुत कोशिश की लेकिन वह कहीं पर भी नहीं मिला।

इसके 6 साल बाद 2011 में एक दिन उसी एरिया का एक व्यक्ति गूगल मैप पर अपने एरिया को देख रहा था। तो उसे एक तालाब में एक अजीब सी चीज दिखाई दी। गौर से देखने पर उसे पता चला कि वह एक कार थी। तो उसने इसकी जानकारी तुरंत पुलिस को थी। जब पुलिस के द्वारा उस कार को तालाब से बाहर निकाला गया तब पता चला कि वह कार David की थी, जिसके अंदर डेविड की गली हुई लाश भी थी। इस बार गूगल मैप किसी की जान तो नहीं बचा पाया लेकिन इसने डेविड की लाश तलाश करने में उसके परिवार की मदद की।


4. Waiting For Help


2007 में Sherida नाम का एक व्यक्ति जो England से था। 1 दिन वह समुंदर में आये तूफान के कारण एक अनजान आइलैंड पर पँहुच गया। वह उस जगह के बारे में कुछ भी नहीं जानता था। उसे ये बिल्कुल भी पता नही था कि वह इस समय किस जगह पर है। इस लिए वह काफी लंबे समय तक उसी टापू पर अकेला रहा। 

इसके 7 साल बाद एक दिन अमेरिका के कुछ बच्चे गूगल मैप पर कुछ टापूओं को देख रहे थे, तो उन्हें एक टापू के किनारे "SOS" लिखा हुआ दिखाई दिया, जो इस बात का सबूत था कि उस टापू पर कोई इंसान है जिसको मदद की जरूरत है। तो उन बच्चों ने अपने पेरेंट्स को इसके बारे में बताया और उनके पेरेंट्स ने इसकी जानकारी पुलिस को दी। और उसके बाद उस व्यक्ति की जान बचाई गयी।


5. Missing Boy


Austin नाम का एक लड़का जिसकी उम्र 15 साल थी, वो एक दिन हैकिंग के दौरान अपने ग्रुप से बिछड़ गया और Great Smoky Mountains National नाम की पहाड़ियों में अकेला खो गया। उसे बिल्कुल भी पता नहीं था कि वह इस समय कहां पर है। उसके पास एक मोबाइल था लेकिन उसमें नेटवर्क ना होने की वजह से वह उसके किसी काम नहीं आ रहा था। इस लिए उसने मोबाइल की बैटरी बचाने के लिए मोबाइल का स्विच ऑफ कर दिया।

इसके बाद 10 दिन तक वह उन्हीं पहाड़ियों में घूमता रहा और 11 दिन उसे याद आया कि उसके मोबाइल में नेटवर्क तो नहीं है लेकिन GPS तो है। तो उसने तुरंत अपने मोबाइल का स्विच ऑन किया और GPS की मदद से वह रिहायसी इलाके में चला गया और इससे उसकी जान बच गई।

ये भी पढ़े...

तो ये थी टॉप 5 सच्ची घटनाएं, जंहा गूगल मैप ने इंसानो की जान बचाई। अगर आपके ध्यान में भी कोई घटना हो तो आप कमेंट करके हमें बता सकते हैं। और अगर आपको यह आर्टिकल अच्छा लगा हो तो इसे अपने दोस्तों के साथ भी जरूर से करें।


EmoticonEmoticon