M.Phil क्या होता है ? पूरी जानकारी हिंदी में

What is M.Phil Full Information in Hindi:- हेलो फ्रेंड्स आप सभी का एक बार फिर से हमारे ब्लॉग पर बहुत बहुत स्वागत है, आज हम आपको बताने वाले है कि M.Phil क्या होता है ? M.Phil की योग्यता क्या है ? M.Phil कैसे करे ? M.Phil करने के फायदे क्या है ? आदि। इस पोस्ट में आपको M.Phil की पूरी जानकारी हिंदी में बताने वाले है। इसलिए इस लेख को अंत तक पढ़े।

M.Phil क्या होता है ? पूरी जानकारी हिंदी में


M.Phil क्या होता है ? पूरी जानकारी हिन्दी में

M.Phil की full form Master Of Philosophy होती है, यह एक Postgraduate Academic Research Program है। जो 2 साल को होता है। M.Phil करने के लिए आपके पास मास्टर डीग्री होना जरूरी है, यानी कि आपका पोस्टग्रेजुएट होना जरूरी है। यंहा ध्यान देने वाली बात यह है कि आप M. Phil सिर्फ उसी सब्जेक्ट से कर सकते है जिस विषय से आपने post graduation की है। 

यानी अगर आपने हिंदी से मास्टर डिग्री की है तो आपको M.Phil भी हिंदी से ही करनी होगी। ठीक इसी प्रकार से अगर आपने विज्ञान से मास्टर डिग्री की है ? तो आपको M.Phil भी विज्ञान से ही करनी होगी। M.Phil में आपको थ्योरी के साथ साथ लैब में प्रैक्टिकल्स भी करवाये जाते है, साथ ही रिसर्च सेंटर्स में काम करने का भी मौका मिलता है, जिससे आप उस सब्जेक्ट को काफी गहराई से समझ सकते है।


M.Phil करने के फायदे क्या है ? 

अगर हम इसके फायदे की बात करें, तो इसका सबसे बड़ा फायदा यह है कि आप जिस सब्जेक्ट से M.Phil करते हैं, आपको उस सब्जेक्ट का पूरा ज्ञान हो जाता है क्योंकि इस कोर्स में आपको उस सब्जेक्ट को गहराई से पढ़ना पड़ता है, और इसी लिए आप उस सब्जेक्ट के एक्सपर्ट बन जाते हैं। यानी कि एम. फिल करने के बाद आप किसी भी स्कूल या कॉलेज में बहुत ही आसानी से पढ़ा सकते हैं, इसके अलावा आपको किसी भी रिसर्च बेस्ड ऑर्गनाइजेशन में भी आसानी से जॉब मिल सकती है। क्योंकि एमफिल किए हुए कैंडिडेट कम ही मिलते हैं। 

इसके अलावा अगर आपके कॉन्पिटिशन में मास्टर डिग्री कीये हुई बंदे हुए, तो कोई भी ऑर्गेनाइजेशन उनकी बजाय आपको लेना ही पसंद करेगी, क्योंकि M.Phil किये हुए बंदे को संबंधित विषय का अच्छा ज्ञान होता है,  और कोई भी संस्था हो, वो हमेशा ऐसे एम्पलयोई को ही लेना पसंद करेगी, जिसे अपने काम के बारे में या अपने प्रोफेशन के बारे में पूरी जानकारी हो। इसलिए इस क्षेत्र में काफी अच्छा स्कोप है, अगर आपको इसमे रुचि है, तो आप यह कर सकते है।


M.Phil करने के लिए योग्यता क्या चाहिए।

  • एमफिल करने के लिए सबसे बड़ी कंडीशन होती है कि आपके पास किसी भी एक सब्जेक्ट में मास्टर डिग्री होना जरूरी है और आपको उसी सब्जेक्ट से M.Phil करनी पड़ती है।
  • कुछ इंस्टिट्यूट में पोस्ट ग्रेजुएशन में मिनिमम मार्क्स की भी लिमिट होती है। इसलिए अगर आपको किसी अच्छे कॉलेज में एडमिशन लेना है तो post graduation में आपके कम से कम 50% से 55% मार्क्स तो होने ही चाहिए।
  • कुछ इंस्टिट्यूट M.Phil में एडमिशन लेन से पहले एक entrance एग्जाम भी लेते हैं। तो आपको वह भी देना पड़ सकता है।

तो यह कुछ बेसिक सी योग्यता है, जिनको अगर आप पूरा करते हैं ? तो आप M.Phil कर सकते हैं। चलिए अभी हम आपको इंडिया की कुछ प्रमुख M.Phil करवाने वाली यूनिवर्सिटीज और कॉलेजेस के बारे में बताते हैं, अगर आप चाहे तो इन collages से पढ़ाई कर सकते हैं।


Top M.Phil Collages in India:-

  • University of Delhi, New Delhi
  • Banaras Hindu University, Varansi 
  • Jawaharlal Institute of Postgraduate Medical, Pondicherry
  • Guru Gobind Singh Indraprastha University, Delhi
  • Madras Christian College, Chennai
  • Cochin University of Science and Technology, Kochi
  • Indian Institute of Technology Madras, Chennai
  • Amity University, Noida
  • Savitribai Phule Pune University
  • Indian Institute of Technology Guwahati

ये भी पढ़े...

तो मित्रों आज इस लेख में अपने जाना कि M.Phil क्या होता है ? इस लेख में आपने M.Phil के बारे में पूरी जानकारी हिंदी में जानी है। अगर आपका कोई सवाल यह सुझाव हो तो आप नीचे कमेंट करके बता सकते हैं। इसके अलावा अगर आपको यह जानकारी पसंद आई हो तो इसे अपने दोस्तों के साथ भी जरूर शेयर करें।


टिप्पणी पोस्ट करें

0 टिप्पणियां