Google Arts & Culture App क्या है ? कैसे इस्तेमाल करे ?

नमस्कार दोस्तों, आज इस आर्टिकल में हम आपको बताएंगे कि Google Arts & Culture App क्या है ? यह किस काम आता है ?Google Arts & Culture App को कैसे डाउनलोड करते है और कैसे इस्तेमाल करते है ?  Google Arts & Culture App के सभी Features की जानकारी आज इस लेख में हम आपको देने वाले है। इस लिए इसे शुरू से लेकर अंत तक जरूर पढ़ें।

Google arts and culture app kya hai kaise use kare

Google Arts & Culture App क्या है ? किस काम आता है ? What is Google Arts & Culture App ?

दोस्तो Google Arts & Culture App, Google के द्वारा लॉन्च की गई एक ऐसी android app है, जिसके अंदर वैसे तो बहुत सारे फ़ीचर्स है, किंतु इसके मुख्य फीचर द्वारा हम अपनी खुद की फ़ोटो को पुराने समय के लोगो के साथ match कर सकते है और यह जान सकते है कि हमारी फ़ोटो की प्राचीन इंसान से मिलती जुलती है और कितने प्रतिशत मिलती है।

जब आप अपनी फोटो इसमें अपलोड करेंगे तो आपके सामने उन सभी प्राचीन लोगो की फ़ोटो व उनकी डिटेल आपके सामने आ जायेगी जिनकी छवि आपसे मिलती जुलती है। उस डिटेल से आप जान पाएंगे कि वह प्राचीन इंसान को थे ? आपकी शक्ल उनसे कितने प्रतिशत match होती है। आदि।

तो अगर आपको ऐसी चीजों में interest है ? तो यह आपके लिए एक बेहतरीन app है। इस लिए आप इसे आज ही डाउनलोड कर सकते है।

Google Arts & Culture App को सबसे पहले 30 नवंबर 2015 को लॉन्च किया गया था। इसे अब तक 5 million से भी ज्यादा लोग अपने मोबाइल में इनस्टॉल कर चुके है। play store पर इसकी रेटिंग 4.2 है, जो कि काफी अच्छी है।


Google Arts & Culture App के Features:- 

मुख्य विशेषताएं:-

  • कला हस्तांतरण - किसी भी तस्वीर को क्लासिक कलाकृतियों के साथ बदल सकते है।
  • आर्ट सेल्फी - आप अपनी तरह दिखने वाले चित्रों की खोज कर सकते है।
  • रंग पैलेट - अपनी तस्वीर के रंगों का उपयोग करके कला का पता लगा सकते है।
  • आर्ट प्रोजेक्टर - आप देख सकते है कि कलाकृतियाँ वास्तविक आकार में कैसी दिखती हैं।
  • पॉकेट गैलरी - इसकी विशाल गैलरी के माध्यम से घूम सकते है और कला के करीब पहुंच सकते है।
  • कला कैमरा - उच्च परिभाषा कलाकृतियों का अन्वेषण कर सकते है।
  • 360 ° वीडियो - 360 डिग्री में संस्कृति का अनुभव कर सकते है।
  • आभासी वास्तविकता पर्यटन - ऑनलाइन ही विश्व स्तरीय संग्रहालयों के अंदर घूम सकते है।
  • सड़क दृश्य - प्रसिद्ध स्थलों और स्थलों की यात्रा कर सकते है।
  • कला पहचानकर्ता - संग्रहालयों की कलाकृतियों को अपने मोबाइल के कैमरा में इंगित करके उनके बारे में अधिक जानकारी प्राप्त कर सकते है। (केवल चयनित संग्रहालयों में) 

तो यह इस एप्प के कुछ फ़ीचर्स है, जिनका आप इस्तेमाल कर सकते है। उम्मीद है आप इनके बारे में अच्छे से जान गए होंगे। अभी हम आपको बताते है कि आप Google Arts & Culture App को कैसे use कर सकते है ?


Google Arts & Culture App को कैसे इस्तेमाल करे ? How to Use Google Arts & Culture App ? Google Arts & Culture App Ko Kaise Use Kare ?

1. इसके लिए सबसे पहले मोबाइल के प्ले स्टोर में जाकर इस एप्प को डाउनलोड करे।

अभी Google Arts & Culture App Download करने के लिए यँहा क्लिक करें।

2. इस एप्प को डाउनलोड करने के बाद जब आप ओपन करेंगे तो आपसे कुछ permissions मांगी जाएगी, उन्हें allow करे।

3. अपनी Gmail ID सेलेक्ट करे। जिससे आप इसे use करना चाहते है।

4. उसके बाद कैमरा आइकॉन पर क्लिक करे। फिर आपके सामने ऐसा इस तरह से कुछ ऑप्शन आ जाएंगे।


यँहा फ़ोटो लेने से पहले आपको सेलेक्ट करना है कि आप फ़ोटो के बारे में जानना चाहते है। जैसे कि अगर आप अपनी फोटो को प्राचीन पेंटिंग के समान देखना चाहते है या एडिट करके अपने दोस्तों के साथ शेयर करना चाहते है तो 'Art Transfer' पर क्लिक करे। इसके अलावा अगर आप यह जानना चाहते है की आपकी छवि प्राचीन समय के कौन कौनसे लोगो के साथ मिल रही है और कितने प्रतिशत मिल रही है ? तो इसके लिए 'Art Selfie' option सेलेक्ट करे।

5. उंसके बाद आपको फ़ोटो खींचनी है।

6. उंसके बाद उस तस्वीर से सम्बंधित सभी जानकारी आपके सामने आ जायेगी।

तो इस प्रकार से आप Google Arts & Culture App को Use कर सकते है। बाकी जब आप इस एप्प को use करेंगे तो इसके बारे में और भी अधिक जान पाएंगे।

ये भी पढ़े...

निष्कर्ष

तो दोस्तो आज इस लेख में आपने जाना कि Google Arts & Culture App क्या है ? यह किस काम आता है ? Google Arts & Culture App को कैसे डाउनलोड करते है और कैसे इस्तेमाल करते है ? Google Arts & Culture App के सभी Features की जानकारी आपने इस लेख में जानी है।

उम्मीद है कि आपको यह जानकारी पसन्द आयी होगी। अगर आपको जानकारी पसन्द आयी हो तो इसे अपने दोस्तों के साथ भी जरूर शेयर करे।

Post a comment

0 Comments